Home / उत्तर प्रदेश / तमिल फिल्म ने हिला दी मोदी सरकार की नींव ! फिल्म ‘Mersal’ पर विवाद

तमिल फिल्म ने हिला दी मोदी सरकार की नींव ! फिल्म ‘Mersal’ पर विवाद

 सवाल ये की बीजेपी ने बवाल क्यों मचा रखा है? दरअसल तमिलनाडु बीजेपी के नेता और केंद्रीय मंत्री पोन राधाकृष्णन का कहना है कि फिल्म ‘Mersal’में जीएसटी और नोटबंदी पर फिल्म में गलत जानकारी दी गई है।

उन्होंने कहा कि सिनेमा के माध्यम से गलत जानकारियों को नहीं फैलाया जाना चाहिए। फिलहाल ट्विटर पर‪#‎MersalVsModi‬ ट्रेंड कर रहा है और Mersal के सपोर्ट में बहुत लोग आ चुके हैं।बता दें कि तमिल भाषा की इस फिल्म के निर्देशक ऐटली हैं। यह फिल्म बदले की कहानी है और भारत के चिकित्सा क्षेत्र में व्याप्त भ्रष्टाचार के इर्द-गिर्द केंद्रित है। फिल्म में जीएसटी, डिजिटल पेमेंट और भ्रष्ट चिकित्सा व्यवस्था पर सवाल उठाए गए हैं और ये सवाल बीजेपी नेताओं को हजम नहीं हो रही इसलिए वो उसे हटवाना चाहते हैं।

,सिंगापुर में सिर्फ 7% ही जीएसटी लगता है जबकि भारत में जीएसटी 0% से 28% तक लगता है। फिल्म में कहा गया है कि हमारी सरकार 28% वसूलती है, क्या है गलत है? बिल्कुल नहीं क्योंकि हमारी सरकार कई वस्तुओं और सुविधाओं पर 28% टैक्स लेती है।फिल्म में सवाल उठाया गया है कि हमारी सरकार हमे मुफ्त में इलाज और दवा क्यों नहीं मुहैया कराती? भारत में दवाईयों पर 5% से 12% तक जीएसटी लगाया जाता है। ये तो फैक्ट है, इसमे बीजेपी के लिए तिलमिलाने जैसा क्या है?फिल्म में ये भी कहा गया है कि सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन के सिलेंडर नहीं होते जिससे लोगों की जान जाती है। अस्पताल में सिलेंडर ने होने का कारण होता है 2-2 साल से कंपनी को ऑक्सीजन सिलेंडर के बिल न चुकाना।

,

क्या फिल्म में कोई गलत सवाल उठाया गया है? क्या गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल में ऑक्सीजन सिलेंडर ने होने की वजह से बच्चों की मौत नहीं हुई? क्या बाद में पता नहीं चला कि गोरखपुर के अस्पताल में सिलेंडर इसलिए नहीं था क्योंकि ऑक्सीजन सिलेंडर देने वाली कंपनी का बिल जमा नहीं किया गया था? जब ये सभी चीजे सही है तो बीजेपी तिलमिला क्यों रही है?

 

 

 

Check Also

gujrat election टीवी चैनलों की भीड़ में ये है अकेला ऑनलाइन , देखें ये हैं नतीजे

Related

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *