Home / उत्तर प्रदेश / जीसीआरजी मेडिकल कालेज 14 अनुयायियों के शव अवैध तरीके से लाए जाने का मामला सामने आया

जीसीआरजी मेडिकल कालेज 14 अनुयायियों के शव अवैध तरीके से लाए जाने का मामला सामने आया

घपले-घोटाले के लिए मशहुर रहे राज्य भंडारण निगम के पूर्व प्रबंध निदेशक ओंकार यादव की मुश्किलें बहुत जल्द बढ़ने वाली हैं। ओंकार यादव अपनी प्रापर्टी को लेकर हमेशा विवादों में रहे हैं। ओंकार यादव जीसीआरजी मेडिकल कालेज के एमडी हैं। इनका बेटा अभिषेक यादव इस मेडिकल कालेज का चेयरमैन है। अभी हाल ही में रेपिस्ट बाबा राम रहीम के डेरा मुख्यालय से बिना किसी कानूनी प्रक्रिया के ही डेड बॉडी मंगाने को लेकर यह प्राइवेट मेडिकल कालेज सुर्खियों में आया था। ओंकार यादव को शिवपाल यादव का बेहद करीबी बताया जाता है। शिवपाल की कृपा दृष्टि से ही ओंकार यादव को राज्य भंडारण निगम का प्रबंध निदेशक बनाया गया था। ओंकार यादव को राज्य भंडारण निगम का सबसे भ्रष्ट एमडी कहा जाता है। एक बार फिर ओंकार यादव को लेकर चर्चाएं तेज हो गयी हैं। बताया जा रहा है कि ओंकार यादव इस समय आईटी और ईडी की रडार पर हैं। ओंकार यादव से जुड़ी तमाम जानकारियां और सबूत देश की कई जांच एजेंसियों तक पहुंची हैं। बहुत जल्द ओंकार यादव बड़ी कार्रवाई की जद में आ सकते हैं।

Check Also

gujrat election टीवी चैनलों की भीड़ में ये है अकेला ऑनलाइन , देखें ये हैं नतीजे

Related

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *